Breaking News

गैसीय ईधन (Gaseous Fuel)

0 0

प्राकृतिक गैस

प्राकृतिक गैस जिसे कंपनियाँ प्रेटाेल के कुओं से निकालती है । जिसके अन्दर 95% हाइड्राेकार्बन हाेता है, और 80% मिथेन भी रहती है । जिसे हम घराें में प्रयाेग करते है, उसे L.P.G कहते है । इसके अन्दर ब्यूटेन एवं प्राेपेन का मिश्रण हाेता है, जिसे उच्च दाब पर द्रवित कर के कंपनिया सिलेण्डराें में भरती है ।

L.P.G जाे अत्याधिक ज्वलनशील हाेती है । इससे हाेने वाली दुर्घटना से बचने के लिए इसमें सल्फर के याैगिक काे मिला देते है। ताकि जब इसका रिसाव हाे ताे इसकी गंध काे हम पहचान सकें ।

गाेबर गैस (Natural Gas)-

गीले गाेबर यानी पशुओं के मल ज्यादातर गाय, भैंस का गाेबर हाेता है, जिसके सड़ने पर ज्वलीनशील मिथेन गैस बनती है । जाे हवा की माैजदगी में आसानी से जलती है । गाेबर गैस में संयत्र में बचे पदार्थ का उपयाेग कार्बनिक खाद के रूप में प्रयाेग करते है ।

प्राेड्यूसर गैस (Producer Gas)-

यह गैस लाल तप्त काेक या काेयला पर प्रवाहित करके बनायी जाती है । इसमें मैन कार्बन माेनाेक्साइड ईधन का काम करता है । इसमें 70% नाइट्राेजन, 25 %, कार्बन माेनाेक्साइड व 4% कार्बन डाइऑक्साइड रहती है । इसका ऊष्मीय मान 1750kcal/kg हाेता है । काँच व इस्पात उद्दाेग में इसका उपयाेग ईधन के रूप में किया जाता है ।

जल गैस (Water Gas)-

इसमें हाइड्राेजन 49%, कार्बन माेनाेक्साइड 45% तथा कार्बन डाइऑक्साइड 4.5% हाेता है । रक्त तप्त कार्बन पर जलवाष्प प्रवाहित करने पर जल गैस प्राप्त हाेता है । इसे भाप अंगार गैस भी कहते है । इसका ऊष्मीय मान 25000 से 2800kcal/kg हाेता है । इसका उपयाेग हाइड्राेजन व अल्काेहल के निर्माण में अपचायक के रूप में हाेता है ।

काेल गैस (Coal Gas)-

यह काेयले के भंजक आसवान से बनाया जाता है । यह बिना रंग के तीक्ष्ण गंध वाली गैस है । यह हवा के साथ विस्फाेटक मिश्रण बनाती है ।

सिगरेट लाइटर में ब्यूटेन का प्रयाेग किया जाता है ।अल्काेहल काे जब पेट्राेल में मिला दिया जाता है, उसे पॉवर अल्काेहल कहते है ।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *